क्या सहायक उर्दू अनुवादक का परिक्षा फ़िर से देना होगा!!??

627
Urdu Anuwadak

सहायक उर्दू अनुवादक 2020 का परिक्षा 28 फरवरी 2021 को कदाचार मुक्त संपन्न हुआ।
परिक्षा संपन्न होते ही अभ्यर्थी गण आपस में कट ऑफ के विषय में चर्चाएं करते हुए पाए गए, सब अपने अपने स्तर से अनुमानित कट ऑफ बताते हैं!!
कट ऑफ के विषय पर जो भी चर्चाएं हुई वह उस का सार यह है कि 80 से 90 के बीच कट ऑफ रहने का अनुमान लगाया जा रहा है। साथ ही साथ अनुभवी व्यक्ति गण बिहार सरकार पर चुटकी लेते हुए यह भी कहते हुए पाए गए कि ” सरकार परिणाम घोषित करेंगे तब न कट ऑफ की बात होगी ” यह मस्खरा दर असल बिहार सरकार की परीक्षाओं को लेकर असंवेदनशीलता को दर्शाती है जिस प्रकार पिछले एक दशक की परिक्षा कदाचार युक्त रहे,इस से अभ्यर्थीयों के मन में एक उदासीनता देखी गई है। कदाचार युक्त परिक्षा इन मस्खरों की पुष्टि करती है।
आप को याद होगा कि बिहार स्टाफ सेलेक्शन कमीशन ने 2013 में इंटर स्तरीय परिक्षा, वन रक्षा आदि के लिए आवेदन लिया था जिस का प्रारंभिक परिक्षा 2016 के फरवरी ही में 5 चर्नो में आयोजन कर रही थी उस परिक्षा को रद किया गया था जिस का मेन्स अब भी भंवर में फंसे हैं , STET2019 का पहला टेस्ट 28 जनवरी 2020 को आयोजित किया गया था मार्च में परिणाम घोषित होना धा, दो महीने बाद STET में कदाचार नज़र आता है और फिर परिक्षा रद कर दिया जाता है। इसी STET का परिक्षा कराने की जिम्मेदारी वेलट्रोर्न जैसे संस्था को दिया जाता है। दो बार आनलाइन परिक्षा लिया गया है परिणाम कोर्ट कचहरी की चक्कर लगा रही है!!! इन इतिहासों के मद्देनजर कट ऑफ की बात करते करते सरकार की मज़ाक उड़ाते हुए भी देखा गया है।
कोरोना काल में अभ्यर्थीयों को 250 से 350 किमी के दूरी पर परिक्षा सेंटर दिया गया जिस कारण बहुत से अभ्यर्थी स-समय परिक्षा केंद्र न पहुंच पाने से परिक्षा देने से वंचित रहा!!
परिक्षा कदाचार मुक्त रहा!! प्रश्न सिलेबस के अनुसार ही रहा!! बहुत सारे अभ्यर्थी को नेगेटिव मार्किंग की जानकारी के आभाव में 100 के 100 प्रश्नों के उत्तर दे डाले!! बड़े ही जोश में, पसीना तान कर कर 95 से 100 का टारगेट करने वाले बाद में नेगेटिव मार्किंग की बात सुन कर दोतों तले उंगलियां दबा लिए !!!
कुछ अभ्यर्थी जिंदगी अनमोल है की हिंदी जीवन अमूल्य है को टीक कर भी मैंस के सपने देखने लगे!!!

लेखक:सद्दाम रिफ-अत, टीजीटी, सोशल साईंस, मानू माडल स्कूल, हैदराबाद ।