बिहार के पूर्णिया जिले में अमित शाह ने जनभावना सभा को किया संबोधित । और विपक्षी पार्टियों पर जम के साधा निशाना।

50
AMIT SAH IN PURNEA

राष्ट्र कवि दिनकर जी के जंयती के शुभ अवसर पर गृह मंत्री व भारतीय जनता पार्टी के पूर्व राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष अमित शाह अपने दो दिवसीय दौरे पर बिहार के पूर्णिया में जनभावना सभा को संबोधित करने आये। पूर्णिया के इंदिरा गांधी स्टेडियम में पहुंच कर गृह मंत्री अमित शाह ने जनता का हाथ जोड़कर अभिवादन किया। गृह मंत्री अमित शाह का स्वागत करते हुए बिहार के नेता प्रतिपक्ष विजय कुमार सिन्हा ने कहा कि आज का दिन ऐतिहासिक है।
उन्होंने कहा कि आज राष्ट्रकवि दिनकर जी की जयंती है।
मन के अंदर विचार करने से कोई परिवर्तन नहीं होगा। निर्णय लेंगे तो कुछ परिवर्तन होगा लेकिन अगर हम संकल्प लेते हैं तो बड़ा परिवर्तन होगा। इसके साथ ही उन्होंने कहा किसंकल्प लीजिए, अबकी बार-बीजेपी सरकार।

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के पहुंचते ही कार्यकर्ताओं ने शंख बचाने शुरू कर दिए। इंदिरा गांधी स्टेडियम गूंज उठा। अमित शाह जिंदाबाद के नारे लग रहे हैं। नरेंद्र मोदी के समर्थन में भी नारेबाजी की जा रही है। शंखध्‍वनि सुनकर सभी रोमांचित हो उठे हैं। महागठबंधन की सरकार बनने के बाद अमित शाह का यह पहला बिहार दौरा है। इसमें वे बीजेपी की मजबूती पर जोर देंगे। साथ ही मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार, उपमुख्‍यमंत्री तेजस्‍वी यादव एवं राष्‍ट्रीय जनता दल सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव को निशाने पर है यह तय लग रहा है। बीजेपी विरोधी दलों की उनपर नजर बनी हुई है।

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह को स्मृति चिन्ह के रूप में गदा दिया। मंच पर मौजूद भाजपा नेताओं ने गदा देकर उनका स्‍वागत किया। मखाना की माला उन्‍हें पहनाई गई। अंग वस्‍त्र दिया गया। मंच को संबोधित करते हुए बीजेपी के नेशनल सिक्रेटरी ने कहा कि ये पूर्णिया का रंगभूमि मैदान है। यहां अमित शाह का आगमन रंग लाएगा। बिहार की जनता से पूछना चाहूंगा कि 25 सालों से बिहार में मुस्लिम-यादव वोट बैंक की राजनीति हुई है। इनके लिए परिवाद का ड्रामा चल रहा है। इस चैप्टर को समाप्त करना होगा।

रैली में कई बड़े नेता ने पहुंच कर अमित शाह के सम्मान में चार चांद लगाया। जिनमें से केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह, पूर्व मंत्री गोपाल पांडेय, रविशंकर प्रसाद, राधामोहन सिंह, पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी व रेणु देवी, नंदकिशोर यादव, प्रेम कुमार, गोपाल नारायण सिंह, नेता प्रतिपक्ष विजय सिन्हा सहित कई सांसद, विधायक व नेता आये।
इसके साथ कई नेताओं ने अपना भाषण देते हुए विपक्षी पार्टियों पर निशाना साधा।

◆बीजेपी के राष्ट्रीय प्रवक्ता और बिहार के पूर्व मंत्री शाहनवाज हुसैन ने मंच से जनता को संबोधित करते हुए कहा कि : हम बिहार में लोकसभा चुनाव 2024 में सभी 40 सीटों में जीत का परचम लहराएंगे। उन्होंने कहा कि हम सबको लेकर चलेंगे, जो इस मुल्क को प्यार करेगा-हम उससे प्यार करेंगे। हमने किशनगंज में भी जीत हासिल की है। बिहार की तस्वीर-तकदीर को बनाना है।

◆बिहार के पूर्व मंत्री सह सहरसा से बीजेपी विधायक नीरज कुमार बबलू जी ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि ये नीतीश कुमार नहीं, कुर्सी कुमार हैं। सहरसा-कटिहार और पूर्णिया में विकास नहीं हुआ है। नीतीश कुमार ने जनता के साथ धोखा किया है। ऐसा कोई सगा नहीं-जिसको इन्होंने ठगा नहीं। जनता खुद कह रही है कि इन्होंने जनता को धोखा दिया है।

◆बिहार में प्रतिपक्ष नेता सम्राट चौधरी ने कहा कि नीतीश कुमार ने 2020 चुनाव में एनडीए के साथ रहते हुए कहा था कि वो उनका अंतिम चुनाव है। अब उनसे बदला लेने का समय आ गया है। 2024 चुनाव उनका अंतिम चुनाव बनाना है। उन्होंने नीतीश कुमार को पलटू कुमार बताते हुए विकास और एनडीए सरकार के बजट का बखान किया। सम्राट चौधरी ने केंद्र सरकार बड़ा ग्रांट देती है लेकिन नीतीश कुमार कहते हैं कि केंद्र सरकार सहयोग नहीं करती।