बिहार : मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर निशाना साधते हुए RCP सिंह ने कहा : मेरा केंद्र मंत्री बनना नहीं हुआ बर्दाश्त । कहा नीतीश कुमार हैं पटेल विरोधी।

11
बिहार : मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर पूर्व केंद्रीय मंत्री आरसीपी सिंह का हमला लगातार जारी है। इसी कड़ी में आरसीपी सिंह ने बड़ा आरोप लगाते हुए कहा कि नीतीश कुमार पटेल समाज के सबसे बड़े दुश्मन हैं।आरसीपी सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बिहार-झारखंड से एक मात्र पटेल समाज के नेता के रूप में मुझे केंद्रीय मंत्री बनाया था, लेकिन नीतीश कुमार को बर्दाश्त नहीं हुआ और मुझे मंत्रिमंडल से हटवा दिए।
आरसीपी सिंह ने आगे कहा, नीतीश कुमार सरदार पटेल का फोटो पटेल समाज का बड़ा नेता दिखना चाहते हैं और इस समाज का वोट लेना चाहते हैं, लेकिन उनका आचरण इसके बिल्कुल उलट है। RCP सिंह इन दिनों बिहार दौरे पर हैं और इसी दौरान वो पत्रकारों से बातचीत के क्रम में यह बात कही गयी। नीतीश सरकार में कानून-व्यवस्था पर भी गंभीर आरोप लगाते हुए आरसीपी सिंह ने कहा कि मुख्यमंत्री NCRB के आंकड़े का हवाला देते हैं, लेकिन लॉ एंड ऑर्डर NCRB के रिपोर्ट से नहीं, जनता के परशेप्शन से चलता है।
बिहार में महागठबंधन सरकार बनने के बाद लूट, हत्या अपहरण, छिनतई व दुष्कर्म की वारदात बढ़ गई है।आम जनता अपने को असुरक्षित महसूस कर रही है।लेकिन सरकार के मंत्री कहते हैं कि अपराध के मामले में बिहार में 25वें नंबर पर है।आरसीपी सिंह ने नीतीश कुमार पर चुटकी लेते हुए कहा कि उनके प्रधानमंत्री बनने की बात महज कल्पना मात्र है।महागठबंधन में जदयू के 45 विधायक हैं और 165 विधायकों के भरोसे महागठबंधन की सरकार चल रही है।इसलिए महागठबंधन में एक लोकसभा सीट के लिए चार विधायक पर एक टिकट मिल सकता है।
तो जदयू के हिस्से में महज 12 सीटें आ सकती हैं।इनके चार सांसद को फिर से टिकट मिलने की संभावना कम है।ऐसे में अब जनता फैसला करेगी कि ये 12 में से कितनी सीटें जीतेंगे। क्या दस से कम संख्या में नीतीश कुमार प्रधानमंत्री बनेंगे? आरसीपी सिंह ने कहा कि जदयू डूबता हुआ जहाज है उस सवार नेताओं का भविष्य अंधकारमय है।