अपनी आवाज खुद उठाउ

122
झौआ से पूरब रेल गेट

कदवा वासियों आप के पास खोने के लिए कुछ नहीं है!!!
यदि ग्रामीण विकास सेवा मंच रेल गेट के लिए वोट बहिष्कार करने का निर्णय लिया है तो हम सभी को उन का सहयोग करना चाहिए क्योंकि हमारे चुने हुए प्रतिनिधि हमारी आवाज़ नहीं उठाती है !
#कितनामहत्वपूर्णहैयहरेलगेटवडुमरियापुल
डुमरिया पुल व झौआ से पूरब रेल गेट बनने से हम अपने सामाजिक गतिविधियों को रफ्तार दे सकते हैं ।
व्यापार को डायरेक्ट कलकत्ता से जोड़ सकते हैं
शिक्षा के लिए अपने बच्चों को सोनैली, सालमारी भेज सकते हैं
आजादी के 72 साल बाद भी एम्बुलेंस सेवा हमारे द्वारा तक नहीं जा सकते हैं कितनी दुःख की बात है !!!
कोई बीमार होते हैं तो आज भी खटिया से कांधे पर मरीज़ को ले जाने पड़ते हैं ।
#विकास के लिए वोट का बहिष्कार करें

समाज के कुछ लोगों में वोट बहिष्कार को लेकर कुछ संशय है ।
1. यदि आप सोचते हैं कि हम जिससे वोट देना चाहते हैं उसे वोट नहीं दे पाएंगे तो आप गलत सोचते हैं क्योंकि वोट बहिष्कार का रिपोर्ट सरकार तक जाएगी, जनता की सही मांग को नोटिस लिया जाता है फ़िर लिखित आश्वासन के बाद बहिष्कारित बुतों पर दो तीन दिनों में वोट कराएगी।
2. कुछ लोग कहते हैं कि यह राजनीति है तो भी आप गलत हैं क्योंकि ग्रामीण विकास सेवा मंच राजनीतिक से अलग है ,समाज की उन अछूते मुद्दे को उठाते हैं जो विकास के लिए अनिवार्य है । झौआ रेल स्टेशन , विशनपूर हाल्ट, मीनापुर हॉल्ट ग्रामीण विकास सेवा मंच की सफलता है ।

लेखक : सद्दाम रिफ-अत, टी जी टी सोशल साईंस, मानू माडल स्कूल, हैदराबाद